12 साल का बालक लापता, विदेशी नंबरों से मांगी फिरौती

झुंझुनूं जिले बसावा गांव से पांच दिन पहले एक 12 वर्षीय बालक बिना बताए घर से निकल गया। उसका कोई पता नहीं चला है। इस बीच परिजनों के पास विदेशी नंबरों से वाट्सएप पर मैसेज भेजकर तीन लाख रुपए की फिरौती मांगी गई है।

चिड़ावा के श्योपुरा में नाबालिग लड़की के अपहरण की वारदात को अन्जाम देने वाले अभियुक्त एवं सहयोग करने वाले 7 आरोपी गिरफ्तार

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

हालांकि पुलिस इस मैसेज को फर्जी बता रही है। बसावा गांव के रहने सचिन गांवरिया ने बताया कि उसका 12 वर्षीय भांजा दीपक उर्फ राहुल ननिहाल से 23 जून को बिना बताए कहीं चला गया।

हर जगह तलाश कर ली, उसका कोई पता नहीं चला है। सचिन ने बताया कि 23 जून को दीपक को खिरोड़ में देखा था। इसके बाद वह घर नहीं पहुंचा। इसके बाद पुलिस में गुमशुदगी भी दर्ज कराई गई।

इसके बाद 25 जून को उसे किसी ने दादिया टोल के पास सीकर की तरफ पैदल जाते और उसी दिन सीकर के रेलवे स्टेशन पर दो महिलाओं के साथ दीपक को लोगों से पैसे मांगते देखा। इसके पता से उसका पता नहीं। सोमवार की रात 12.48 बजे फिर से मैसेज आया। जिसमें लिखा था- पैसा पहुंचा दो । पैसा पहुंचाते ही 20 मिनट बाद तुमको लोकेशन मिल जाएगी। इसी दिन रात 3.38 बजे मैसेज भेजकर एक अकाउंट नंबर भेजा। यह अकाउंट नंबर द् सऊदी नेशनल बैंक का है। अब सवाल यह उठ रहा है कि क्या यह ठगी का नया तरीका है या फिर कुछ ओर ।

मामा सचिन के पास वाट्सएप पर मैसेज आया

सचिन के पास एक विदेशी नंबरों से वाट्सएप आया। उसमें मैसेज के जरिए तीन लाख रुपए की डिमांड की गई है। मैसेज में लिखा कि लड़का सही सलामत चाहिए, तो तीन लाख रुपए पहुंचा दो याद रखना कोई गलती नहीं, अगर कोई गलती की, या किसी को बताया तो अंजाम अच्छा नहीं होगा। इस पर सचिन ने लिखा फोटो सेंड करो अभी, ऐसे कैसे विश्वास हो आपके पास है। तब मैसेज भेजने वाले ने एक लड़के की फोटो भेजी और लिखा कि तुम्हारी मर्जी, मत करो विश्वास ।