चट मंगनी पट ब्याह : सगाई करने गए थे दुल्हन लेकर लौटे

गए थे सगाई करने लौटे दुल्हन लेकर

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

भोड़की के श्रीपाल गोदारा ने अपने पौत्र व रघुनाथपुरा के चंदगीराम मंडीवाल ने अपनी पौत्री की सादगी से की शादी

मलमास होने से 1 माह शादियों पर विराम होने से रविवार को शादी का कोई सावा नहीं था

ऐसे में ढानिया भोड़की ग्राम पंचायत के राजस्व गांव गोदारा का बास के कामरेड श्रीपाल गोदारा ने अपने पौत्र अमित की
सगाई करने रघुनाथपुरा गांव की मंडीवाल ढाणी में गए थे

लेकिन दोनों पक्षों ने आपसी बातचीत के बाद शादी में होने वाले अनावश्यक खर्च को रोकने के लिए इसी कार्यक्रम में शादी करने का निर्णय लिया

जिस पर परिजनों ने अमित व पूजा की सादगी से शादी की
शादी में वर पक्ष में एक भी दहेज की वस्तु नहीं ली गई और वधू पक्ष ने किसी से भी कन्यादान भी नही लिया गया

दूल्हा अमित सेना में है जब की दुल्हन पूजा एमए में अध्ययनरत है दूल्हे के पिता जगदीश गोदारा सेना से रिटायर है जबकि दुल्हन की माता सावित्री देवी राजकीय सेवा में अध्यापिका पिता मोहर सिंह किसान है

सादगी से हुई इस शादी में सैनिक कल्याण राज्यमंत्री राजेंद्र सिंह गुढा, रघुनाथपुरा सरपंच संजय नेहरा ,पूर्व उप जिला प्रमुख विद्याधर सिंह गिल, ढाणिया भोड़की के पूर्व सरपंच कैप्टन शिव राम गोदारा ,जयचन्द रेपस्वाल, सतपाल मावलिया, अमित देवा सहित कई जनप्रतिनिधि इस शादी में शामिल अनुकरणीय पहल को सराहा तथा वर वधु को आशीर्वाद प्रदान किया
यह प्रेरणादाई कार्य में सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य जगदेव सिंह गोदारा ,दूल्हे के चाचा महेंद्र गोदारा व रोहिताश गोदारा की भूमिका अग्रणी रही

वधु पक्ष की ओर से चौधरी चन्दगी राम जी , उनके सुपुत्र शिशुपालसिंह (हाल आबकारी विभाग ) मोहर सिंह (वधु पिता) जवाहरलाल (Ex सूबेदार ) और भाई संजीव , दिनेश ,कमलेश मील आदि ने सादगी से शादी कर अपनी ओर से रघुनाथपुरा की शिव गौशाला , भोड़की की जमवाय गौशाला व मंडी वालों गोत्र के लोक देवता झुंझार मंदिर व ग्राम एकीकृत स्टेडियम भोड़की के विकास के लिए सहयोग प्रदान किया