बीसूका उपाध्यक्ष बनने के बाद शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित करने पहुंचे डॉ. चंद्रभान

बीसूका उपाध्यक्ष बनने के बाद शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित करने पहुंचे डॉ. चंद्रभान बोलेः

“राज्य सरकार की मंशानुरूप सरदार हरलाल सिंह की मूर्ति स्थापित की जाएगी”

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

शेखावटी के प्रथम स्वतंत्रता सेनानी शहीद टीकूराम को भी दी श्रद्धांजली

झुंझुनूं, 21 अप्रैल। बीस सूत्री कार्यक्रम के राज्य उपाध्यक्ष डॉ. चंद्रभान झुंझुनूं जिले के अपने दो दिवसीय दौरे में गुरूवार को जयसिंहपुरा और हनुमानपुरा पहुंचे। जयसिंहपुरा में उन्होंने शेखावटी के प्रथम स्वतंत्रता सेनानी शहीद टीकूराम के स्मारक स्थल पर पहुंच कर श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

उन्हानें इस दौरान शहीद टीकूराम के कृतित्व के बारे में बताते हुए कहा कि वे निडर व्यक्तित्व के धनी थे और सामंतवादी व्यवस्था से संघर्ष के प्रतीक थे। इस दौरान शहीद टीकूराम के पौत्र भागचंद दूलड़ का भी डॉ. चंद्रभान ने खादी का शॉल ओढ़ाकर सम्मान किया। इसके बाद वे हनुमानपुरा पहुंचे, जहां पूर्व विधायक और स्वतंत्रता सेनानी सरदार हरलाल सिंह को श्रद्धांजली देते हुए सभा को संबाधित किया। सभा की अध्यक्षता सरपंच सावित्री देवी ने की। बतौर मुख्य अतिथि अपने उद्बोधन में डॉ. चंद्रभान ने कहा कि सरदार हरलाल सिंह ने स्वतंत्राता आंदोलन में अपना अमूल्य योगदान दिया।

आज की पीढ़ी को भी उनके कृतित्व से परिचित करवाना हमारा दायित्व है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मंशा के अनुरूप जल्द ही झुंझुनूं जिले में सरदार हरलाल सिंह की मूर्ति स्थापित की जाएगी। सभा को से.नि. आर.ए.एस. सुभाष कुमार, पूर्व सरपंच फूल सिंह, पूर्व सरपंच हरफूल सिंह, समाजसेवी सुभाष सेवदा, फूलसिंह दादाजी ने भी संबोधित कर सरदार हरलाल सिंह के व्यक्तित्व के बारे में बताया। सभा का संचालन नरेश खादीवाला ने किया। इस दौरान जिला जनसंपर्क अधिकारी हिमांशु सिंह, मंडावा तहसीलदार सुभाष कुलहरी, राजन चौधरी, प्रदीप दुलड़, बंशीधर, धूंकल सिंह, करणीराम महला, पवन कुमार, प्रशांत दुलड़ समेत अनेक ग्रामीण मौजूद रहे।

3 बार मंत्री बना, तीनों बार यहां आया हूंः
डॉ. चंद्रभान ने कहा कि मैं राज्य सरकार में तीसरी बार मंत्री बना हूं। तीनों बार मंत्री बनने के बाद शेखावटी के इन महान सपूतों को नमन करने यहां आया हूं। गौरतलब है कि जयसिंहपुरा डॉ. चंद्रभान का पैतृक गांव है।