राजस्थान में मायरा : भांजे की शादी में भरा 8 करोड़ का मायरा

राजस्थान के नागौर में 8 करोड़ का मायरा भाई ने बहन को दी 100 बीघा जमीन, 1 किलो सोना और 14 किलो चांदी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

नागौर के जाटों ने फिर रचा इतिहास

ढिंगसरा के मेहरिया परिवार के मजबूत स्तंभ समाज रतन श्रीमान भागीरथ जी मेहरिया, अर्जुनरामजी मेहरिया के परिवार ने अपनी बहन भंवरी देवी के मायरा भरा। जिसमें 2 करोड़ 21 लाख 31000 रुपए रोकड़ी 100 बीघा जमीन रोड के ऊपर 1 किलो 105 ग्राम सोना सवा 14 किलो चांदी दो भिगो के पलोट पूरे गोदारा परिवार को 40 सोने के सूत गले में और 40 सोने की बिनटी पूरे गांव में 800 चांदी के सिक्के 15 ग्राम के और 800 कपड़े की ड्रेस, एक ट्रैक्टर ट्रॉली गेहूं से भरी हुई।

नागौर जिले में एक बार फिर मायरा चर्चा का विषय बन गया है. नागौर के ढींगसरा गांव में मेहरिया परिवार ने ऐतिहासिक मायरा भरा है. यह मायरा 8 करोड़ 1 लाख रुपए का भरा गया है. बता दें कि इस मायरे की चर्चा पिछले 10 दिनों से नागौर में चल रही थी और आखिर कार रविवार को नागौर के ढींगसरा गांव में मायरे का इतिहास रच दिया गया. इस मायरे में सैकड़ों की संख्या में भाई अर्जुन राम मेहरिया और भागीरथ मोहरिया गाड़ियों के साथ मायरा भरने पहुंचे करीब दो किलोमीटर तक गाड़ियों का काफिला चलता रहा. इसमें सैकड़ों कारें, ट्रैक्टर, ऊंट गाड़ी और बैल गाड़ी के साथ भाई अपनी बहन के यहां मायरा भरने पहुंचे.

मायरे में दो करोड़ 21 लाख रुपए नकद रखे गए. इसके अलावा 1 किलो 105 ग्राम सोना, 14 किलो चांदी थाल में रखी गई, जिसकी कीमत करीब 8 लाख 80 हजार रुपए है. मायरे में गेहूं से भरी हुई एक ट्रैक्टर-ट्रॉली भी रखी गई.

महरिया परिवार के इस मायरे की चर्चा इसलिए भी खास हो गई, क्योंकि भाई ने बहन के लिए 4 करोड़ 42 लाख रुपए की 100 बीघा जमीन भी मायरे में दी है. गुढ़ा भगवानदास गांव में 50 लाख रुपए कीमत की 1 बीघा जमीन भी मायरे में बहन को भाई ने दी है.

हजारों लोग पहुंचे मायरे में : मायरे में हजारों लोगों की उपस्थिति में भाई ने बहन के यहां 8 करोड़ 1 लाख का मायरा भरा और हजारों लोग इसके साक्षी बने है. इस मायरे ने इतिहास बना दिया. फिलहाल, नागौर जिले में अब तक का यह सबसे बड़ा मायरा भरा गया है.

ढींगसरा में जो मायरा भरा गया है वह इसलिए अनोखा हो गया है, क्योंकि इस मायरे में भाई ने अपनी बहन की हर जरूरत को पूरा कर दिया है. भाई ने बहन को जमीन, ट्रैक्टर-टॉली, स्कूटी सहित कई वाहन दिए और करोड़ों के सोने-चांदी के आभूषण दिए हैं.

मायरा बनता जा रहा है ट्रेंड :
आपको बता दें कि अभी कुछ दिनों पहले ही नागौर के डेह तहसील के बुरडी गांव में भी 3 करोड़ का मायरा भरा गया था, लेकिन अब ढींगसरा गांव का मायरा सब रिकॉड तोड़ चुका है. अब यह कहना सही होगा कि राजस्थान के नागौर जिले में मायरा अब ट्रेंडिंग में आने लगा है, क्योंकि पिछले एक साल में 10 से ज्यादा मायरे नागौर जिले में सोशल मीडिया पर छाए रहे थे.

रविवार को नागौर की पूर्व प्रधान कंवराई मेहरिया के पुत्र भाजपा नेता भागीरथ मेहरिया, अर्जुनराम मेहरिया, हरिराम मेहरिया, उम्मेदराम मेहरिया, मेहराम मेहरिया व प्रहलाद मेहरिया ने अपनी बहन भंवरी देवी के यह मायरा भरा। सभी भाई कृषि कार्य के साथ ठेकेदारी का काम करते हैं।

गौरतलब है कि पिछले दिनों बुरड़ी गांव के एक किसान परिवार के तीन भाइयों ने अपनी भांजी की शादी में 3 करोड़ 21 लाख रुपए का मायरा भरा था, लेकिन रविवार को ढींगसरा में 8 करोड़ 15 लाख के भरे गए इस मायरे ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। मायरा भरने के दौरान पूर्व केन्द्रीय मंत्री सी.आर. चौधरी, नागौर विधायक मोहनराम चौधरी सहित जिलेभर के आधे दर्जन से अधिक पंचायत समितियों के प्रधान एवं जनप्रतिनिधि मौजूद थे।