शौर्य चक्र विजेता विकास जाखड़ के साथ बदसलूकी की, अब राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का किया अपमान ! Jhunjhunu News

झुंझुनूं: प्रशासन ने शौर्य चक्र विजेता के अनशन स्थल पर लगे टैंट को उखाडा, तिरंगे के अपमान का लगाया आरोप

लाठी के दम पर बेरोजगारों की आवाज को कुचलने के प्रयास जारी, बेरोजगारों की मांग से इतना डरी हुई है गहलोत सरकार, जाखड़ के आंदोलन को कुचलने की तैयारी

शौर्य चक्र विजेता विकास जाखड़ ने लगाया प्रशासन पर तिरंगे के अपमान का आरोप

गांव जाखड़ों के बास में सरकारी भर्तियों में धांधली के आरोप को लेकर जारी था धरना

शौर्य चक्र विजेता चक्र विकास जाखड़ ने दी अपनी प्रतिक्रिया, कहा – बहुत ही क्रूर तरीके से पुलिस ने किया दमन, जिस प्रकार से अंग्रेज भारतीयों का दमन किया करते थे उसी प्रकार से यह सरकार हमारा दमन कर रही है, 26 जनवरी को प्रदेश के गांव-गांव में किया जाएगा धरना प्रदर्शन और रैलियां

जिला प्रशासन ने क्या कहाँ 👇👇

जाखड़ों का बास में अनशन कर रहे दो व्यक्तियों को अस्पताल में भर्ती कराया

झुंझुनूं, 24 जनवरी। जाखड़ों का बास में अपनी विभिन्न मांगों को लेकर आमरण अनशन पर बैठे दो व्यक्तियों को जिला प्रशासन ने सोमवार को राजकीय बीडीके अस्पताल में भर्ती कराया है। झुंझुनूं उपखंड अधिकारी शैलेष खैरवा ने बताया कि जिला कलक्टर लक्ष्मण सिंह कुड़ी के निर्देशन में आमरण अनशन पर बैठे व्यक्तियों का मेडिकल टीम द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किया गया था, मेडिकल टीम ने तुरंत अस्पताल में भर्ती करने की आवश्यकता बताई। जिस पर प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में दोनों व्यक्तियों को बीडीके अस्पताल में भर्ती करवाया गया। वहीं मौके पर प्रशासन को बिना पूर्व सूचना दिए चल रहे भजन कीर्तन में राज्य सरकार द्वारा जारी कोरोना गाईडलाइन की पालना नहीं करने पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मौके से टेंट को जब्त किया और लोगों को वहां से हटाते हुए कोरोना गाईडलाइन की पालना करने की अपील की गई।