Headlines

Gas Cylinder: इन लोगों को नहीं मिलेगा गैस सिलेंडर, फटाफट करा लें ये काम, नहीं तो कट जाएगा …

Gas Cylinder E kyc आधार सत्यापन पर ही मिलेगी रसोई गैस की बढ़ी सब्सिडी, नहीं करवाया तो कनेक्शन होगा निरस्त

केंद्र सरकार अब गैस सिलेंडर (Gas Cylinder) पर सब्सिडी देने की तैयारी कर रही है. इसके लिए सभी घरेलू गैस कनेक्शन धारियों का ई-केवाईसी करा रही है. सिलेंडर लेने पहुंच रहे उपभोक्ताओं की बायोमीट्रिकडिटेल लेकर ई-केवाईसी की जा रही. ऐसे में जिनका कनेक्शन है, वहीं पात्र रहेंगे. बोगस कनेक्शन रद्द हो जाएंगे. जिसमें ज्यादातर उज्ज्वला (Ujjawala) कनेक्शन भी रद्द हो सकते हैं.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

रसोई गैस को लेकर केन्द्र सरकार की ओर से सब्सिडी दी जाती थी। लेकिन मई-जून 2018 के बाद से घरेलू गैस कनेक्शन की सब्सिडी बंद कर दी गई। उस वक्त 435 रुपए खाते में मिलते थे। अब तीन साल से अधिक समय से गैस उपभोक्ताओं को सब्सिडी का लाभ नहीं मिल पा रहा है।

अभी घरेलू गैस के सिलेंडर की पूरी कीमत उपभोक्ता को चुकानी होती है। अभी एक महीने केन्द्र सरकार की ओर से 200 रुपए और पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार की ओर से बीपीएल कनेक्शन धारकों को 500 रुपए में गैस सिलेंडर देने का फैसला किया गया था। भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में उज्जवला योजना के उपभोक्ता को 450 रुपए में गैस सिलेंडर देने का वादा किया है।

City Hospital Jhunjhunu

31 दिसंबर तक जरूर करवा लें ई-केवाईसी, नहीं तो बंद हो जाएगी सब्सिडी


अभ्यर्थी ई-केवाईसी अपनी गैस एजेंसी कार्यालय में जाकर करवा सकते हैं। इसके अलावा अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट या अपने नजदीकी ईमित्र केंद्र पर जाकर भी ई केवाईसी करवा सकते हैं। भारत सरकार के तेल और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के निर्देशानुसार सब्सिडी प्राप्त गैस की कीमतों पर सब्सिडी प्राप्त करने वाले उपभोक्ताओं को ई-केवाईसी करवाना अनिवार्य है।

अभ्यर्थियों को अपनी गैस एजेंसी कार्यालय में जाकर ईकेवाईसी करवा लेनी चाहिए। इसके अलावा अभ्यर्थी खुद ऑफिशल वेबसाइट से भी ईकेवाईसी कर सकते हैं। एलपीजी गैस की केवाईसी ऑनलाइन करने की प्रक्रिया और लिंक नीचे उपलब्ध करवा दिया है। एलपीजी गैस ई केवाईसी करवाने के लिए अभ्यर्थी के पास आधार नंबर, एलपीजी आईडी या पासबुक एवं रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर होना चाहिए।

PM Ujjwala Yojana 2024: उज्ज्वला योजना के तहत फ्री सिलेंडर के लिए ऐसे करें आवेदन

LPG Gas E-KYC Online Kaise Kare


एलपीजी गैस ई केवाईसी ऑनलाइन कैसे करें। LPG Gas E-KYC Online करने की स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस नीचे दी गई है। LPG Gas E-KYC Online करने के लिए नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करना है।

• सबसे पहले आपको एलपीजी गैस की ऑफिशल वेबसाइट www.mylpg.in पर जाना है।
• इसके बाद आपको भारत, इंडेन और एचपी गैस तीनों के ऑप्शन दिखाई देंगे।

• आपके पास जिस कंपनी का सिलेंडर है उस पर क्लिक करना है।
• इसके बाद आपको न्यू यूजर पर क्लिक करके रजिस्ट्रेशन करना है। यदि आप पहले से रजिस्टर्ड है तो आपको साइन इन करना है।
• लॉगिन करने के बाद आपको अपने गैस कनेक्शन से संबंधित सभी डिटेल स्क्रीन पर दिखाई देगी।

• इसके बाद आपको Track your Refill के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
• इससे आपने अभी तक जितने भी गैस सिलेंडर आर्डर किए हैं, उनकी पूरी हिस्ट्री दिखाई देगी और सब्सिडी भी दिखाई देगी।
•इसके बाद आपको लेफ्ट साइड में आधार ऑथेंटिकेशन ऑप्शन पर क्लिक करना है।
•जिससे आपको आधार के लास्ट चार अंक दिखाई देंगे, इसके बाद आपको कैप्चा कोड डालकर जेनरेट ओटीपी पर क्लिक करना है।

•इसके बाद आपको ओटीपी डालकर ऑथेंटिकेट पर क्लिक करना है, जिससे आपको ऑथेंटिकेट सक्सेसफुली का मैसेज दिखाई देगा।
• इसके बाद यदि आप दोबारा से आधार ऑथेंटिकेशन ऑप्शन पर क्लिक करेंगे, तो आपको ई-केवाईसी ऑलरेडी कंप्लीटेड मैसेज दिखाई देगा।

ऐसे कराना होगा सत्यापन : गैस कंपनियों की ओर से वेरिफिकेशन के लिए उपभोक्ता के पंजीकृत मोबाइल नंबर पर मैसेज भिजवाया जाएगा।

जिसके बाद तय समय पर उपभोक्ता को गैस एजेंसी में जाना होगा और आधार नंबर देने होंगे। इसके बाद वहां मौजूद कर्मचारी फिंगर प्रिंट के जरिए आधार प्रमाणीकरण का काम करेगा। प्रमाणीकरण के दौरान आंखों की स्कैनिंग भी होगी। ई-केवाईसी के लिए कनेक्शन धारक को उपभोक्ता कार्ड, आधार, बैंक पासबुक की फोटो प्रति लेकर जानी होगी। वहां बायोमैट्रिक मशीन के जरिए स्कैनिंग होगी और उस जानकारी का मिलान किया जाएगा।

सिलेंडर पर शुरू हो सकती है सब्सिडी


जानकारों का कहना है कि अप्रेल 2020 से घरेलू गैस सिलेंडर पर अघोषित रूप से सब्सिडी बंद है। लेकिन सरकार लोकसभा चुनाव से पहले इस सब्सिडी को फिर से शुरू कर सकती है। इससे पहले सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि रजिस्टर्ड गैस उपभोक्ताओं का जो डेटा गैस कंपनियों के पास है वह सही है या नहीं।

केवाईसी की आड़ में 190 से 200 वसूली, गैस पाइप बदलने की रुपए तक की थमा रहे हैं रसीद

झुंझुनूं: विभिन्न गैस एजेंसियों पर केवाईसी की आड़ में गैस पाइप के नाम पर प्रति उपभोक्ता 190 से 200 रुपए तक वसूले जा रहे हैं। जो उपभोक्ता रसीद कटवाने से मना कर रहे हैं उन्हें डराया जा रहा है कि अगर गैस पाइप की रसीद नहीं कटवाओगे तो केवाईसी भी नहीं होगी। अपने गैस कनेक्शन की केवाईसी करवाने के लिए सर्दी के मौसम में भी सुबह 8 बजे से ही गैस एजेंसियों के बाहर उपभोक्ताओं की कतार लगना शुरू हो जाती है।

उपभोक्ताओं का आरोप है कि एजेंसियों पर गैस पाइप के नाम पर वसूली की जा रही है। 9 प्रतिशत जीएसटी भी ले रहे हैं जबकि रसीद पर जीएसटी नंबर भी नहीं लिखे हैं। केवाईसी करवाने के लिए क्या-क्या जरूरी दस्तावेज साथ लाने हैं यह जानकारी तो एजेंसी के बाहर चिपकाई गई है, लेकिन यह कहीं नहीं लिखा है कि गैस पाइप के लिए भी रसीद कटवानी होगी।

इस तरह पैसा वसूली पर उपभोक्ताओं में रोष तो है लेकिन केवाईसी नहीं होगी इस डर से वे बोल नहीं पा रहे हैं और मजबूरन रसीद कटवा रहे हैं। क्योंकि इन्हें डर है कि कहीं रसीद नहीं कटवाई तो कनेक्शन कट जाएगा। इस मजबूरी में रसीद कटवा रहे हैं।