कृषि आदान विक्रेताओं के लिए डिप्लोमा कोर्स प्रारम्भ

कृषि आदान विक्रेताओं के लिए डिप्लोमा कोर्स प्रारम्भ

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

झुंझुनूं, 11 फरवरी। कृषि विभाग के आत्मा प्रशिक्षण हॉल में कृषि आदान विक्रेताओं के लिए डिप्लोमा कोर्स के दूसरे बैच का शुभारंभ किया गया है। यह डिप्लोमा कोर्स जिले में खाद, बीज, उर्वरक आदि आदानों का विक्रय करने वाले उन कृषि आदान विक्रेताओं के लिए है, जिनके पास सरकार द्वारा निर्धारित योग्यता नहीं है तथा उनको कृषि तकनीकी, कृषि योजनाओं की जानकारी एवं कृषि आदानों के व्यापार संबंधी कानूनों की जानकारी का अभाव है। इसी लिए इनके संबंध में जानकारी देने के लिए यह पाठ्कम प्रारंभ किया गया है। यह कोर्स 48 सप्ताह तक चलाया जावेगा तथा सप्ताह में एक ही दिन कृषि विभाग के विशेषज्ञों द्वारा जानकारी दी जावेगी प्रशिक्षण पूर्ण हो जाने पर आदान विक्रेताओं को डिप्लोमा प्रमाण पत्र जारी किया जावेगा।

प्रशिक्षण के शुभारंभ समारोह में मुख्य अतिथि के. के. मंगल, उप निदेशक, कृषि, श्याम जयपुर एवंम समन्वयक देशी कोर्स, रामकरण सैनी, उप निदेशक कृषि एवं पदेन परियोजना निदेशक आत्मा, डॉ., सहदेव सिंह, चीफ फेसिलिटेटर देशी कोर्स, डॉ. दयानन्द, मुख्य वैज्ञानिक केवीके, आबूसर कमलेश कुल्हरी उप निदेशक कृषि (विस्तार), डॉ. विजयपाल कस्वां, सहायक निदेशक कृषि ( विस्तार ), शीशराम जाखड़, सहायक निदेशक, उद्यान, मुकेश कुमार, सहायक कृषि अनुसंधान अधिकारी, रोहिताश ढाका, कृषि अधिकारी, संध्या कुमारी ढाका, उप परियोजना निदेशक आत्मा, सविता कृषि अधिकारी, विजय सिंह, सहायक कृषि अधिकारी उपस्थित थे।