सोशल मीडिया पर नकली नोट बेचने वाले को पकड़ा, फर्जी ग्राहक बनकर संपर्क किया

दिल्ली पुलिस ने राजस्थान से सोशल मीडिया पर नकली नोट बेचने वाले शख्स को पकड़ा..!!

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अपनी इंस्टाग्राम आईडी और व्हाट्सएप के जरिए 100 रुपये और 500 रुपये के नकली भारतीय नोट बेचने के आरोप में 22 वर्षीय ठग बाड़मेर के मूलाराम को गिरफ्तार किया।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अपनी इंस्टाग्राम आईडी और व्हाट्सएप के जरिए 100 रुपये और 500 रुपये के नकली भारतीय नोट (एफआईसीएन) बेचने के आरोप में राजस्थान के एक 22 वर्षीय ठग को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी। आरोपी की पहचान राजस्थान के बाड़मेर निवासी मूलाराम के रूप में हुई है। आईएफएसओ के पुलिस उपायुक्त प्रशांत गौतम ने कहा कि भारत सरकार के सिक्का और मुद्रा विभाग के उप सचिव से एक शिकायत प्राप्त हुई थी, जिसमें आरोप लगाया गया था कि एक इंस्टाग्राम आईडी उनके संज्ञान में आई है, जिस पर नकली भारतीय नोट बेचे जा रहे हैं।

पुलिस उपायुक्त ने कहा, पुलिस ने शिकायत पर कार्रवाई करते हुए फर्जी ग्राहक बनकर मूलाराम से संपर्क किया। जब आरोपी ने उन्हें आश्वासन दिया कि वह तीन हजार के बदले में 6,000 रुपये भेजेगा, तो जांच अधिकारी ने आरोपी के गूगल पे नंबर पर यूपीआई के माध्यम से 3,000 रुपये ट्रांसफर किए।

अधिकारी ने कहा, तकनीकी सबूतों के आधार पर आरोपी का पता लगाने का प्रयास किया गया। आरोपी मूलाराम को आखिरकार राजस्थान के जालौर जिले के मैत्रीवाड़ा से गिरफ्तार कर लिया गया।