Morbi BREAKING NEWS गुजरात के मोरबी में मच्छु नदी पर बना पुल गिरा

Cable Bridge Collapses In Gujarat:गुजरात के मोरबी में बड़ा हादसा, 5 दिन पहले हुआ था पुल का रिनोवेशन

गुजरात के मोरबी में मच्छु नदी के ऊपर बना केबल पुल टूटा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मृतकों के आश्रितों को दो लाख और घायलों को 50 हजार रुपए की सहायता देने का ऐलान किया है। उन्होंने CM भूपेंद्र पटेल से बातचीत कर रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी ली। सीएम पटेल ने कहा- राहत और बचाव कार्य जारी है। घायलों के तत्काल उपचार की व्यवस्था करने के निर्देश दिए

गुजरात के गृह मंत्री हर्ष संघवी ने सोमवार सुबह तक 132 लोगों की मौत की पुष्टि की है. वहीं, 177 से ज्यादा लोगों को बचाया गया है. इसके साथ-साथ 19 लोगों का अभी भी इलाज जारी है. बचाव अभियान में सहायता के लिए एनडीआरएफ की 3 टीमें मौके पर हैं. (Gujarat bridge collapse). मृतकों में बच्चे, महिलाएं और बुजुर्गों की संख्या ज्यादा है.’ रेस्क्यू के लिए एयरफोर्स के गरुड़ कमांडो भी भेजे गए हैं.

गुजरात के मोरबी में रविवार शाम करीब 7 बजे बड़ा हादसा हो गया है। यहां केबल ब्रिज टूटने से करीब 400 लोग मच्छु नदी में गिर गए। इनमें से कुछ लोगों के नदी में डूबने से मौत होने की आशंका है। यह पुल पिछले 6 महीने से बंद था। इसी महीने दिवाली के एक दिन बाद यानी 25 अक्टूबर को आम लोगों के लिए खोला गया था।

140 साल से भी ज्यादा पुराना है ब्रिज
मोरबी का यह सस्पेंशन ब्रिज 140 साल से भी ज्यादा पुराना है और इसकी लंबाई करीब 765 फीट है। यह सस्पेंशन ब्रिज गुजरात के मोरबी ही नहीं बल्कि पूरे देश के लिए ऐतिहासिक धरोहर है। इस ब्रिज का उद्घाटन 20 फरवरी 1879 को मुंबई के गवर्नर रिचर्ड टेम्पल ने किया था। यह उस समय लगभग 3.5 लाख की लागत से 1880 में बनकर तैयार हुआ था। उस समय इस पुल को बनाने का पूरा सामान इंग्लैंड से ही मंगाया गया था।