सीकर : कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष के जिले में ‘पारिवारिक’ सियासत, भाजपा जिलाध्यक्ष की बहु बनी कांग्रेस जिलाध्यक्ष

सीकर जिला कांग्रेस अध्यक्ष सुनीता गिठाला

राजस्थान में कांग्रेस के 13 नए जिलाध्यक्षों की नियुक्ति के बाद प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के गृह जिले में सियासी संग्राम ‘पारिवारिक’ हो गया है। यहां पूर्व जिला परिषद सदस्य सुनीता गिठाला को कांग्रेस ने नया जिलाध्यक्ष नियुक्त किया है। जो भाजपा जिलाध्यक्ष इंद्रा चौधरी के परिवार की सदस्य है। रिश्ते में सुनीता गिठाला बहु व इंद्रा चौधरी उनकी सास लगती है। ऐसे में इस अनूठ सियासी मेल से जिले में राजनीति का खेल रोमांचक हो गया है। गौरतलब है कि जिलाध्यक्ष पद पर महिला कार्ड खेलकर पहले भाजपा ने चौंकाया था और अब भाजपा की तर्ज पर कांग्रेस ने भी जिले की कमान महिला को सौंप सियासी समीकरणों को नए अंदाज से अपने पक्ष में करने की कयावद की है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now
भाजपा जिला अध्यक्ष इंद्रा चौधरी एवं कांग्रेस जिला अध्यक्ष सुनीता गिठाला

सास- बहु ने आमने- सामने लड़ा था चुनाव

सुनीता गिठाला जिलाध्यक्ष पद पर काबिज होने से पहले भी अपनी सास इंद्रा चौधरी से सियासी मैदान में दो- दो हाथ कर चुकी है। गिठाला ने जिला परिषद चुनाव में वार्ड नम्बर 10 से इंद्रा चौधरी को चुनौती दी थी। हालांकि चुनाव में सास बहु पर भारी पड़ी थी। इंद्रा चौधरी ने ये चुनाव जीतकर पहली बार वार्ड 10 में भाजपा का परचम लहराया था।

कांग्रेस के कई पदों पर रह चुकी है गिठाला
सुनीता गिठाला के नाम पर सहमति के पीछे की वजह महिला होने के साथ उनकी निर्विवाद छवि व लंबा राजनीतिक अनुभव माना जा रहा है। वे जिला परिषद सदस्य रहकर जन प्रतिनिधित्व कर चुकी है। वहीं, जिला कांग्रेस में जिला सचिव ,जिला उपाध्यक्ष महिला कांग्रेस में जिला सचिव, प्रदेश महासचिव व प्रदेश उपाध्यक्ष पद पर रहकर संगठन का काम भी संभाल चुकी है।

पीसीसी चीफ डोटासरा के जिलाध्यक्ष कार्यकाल में रही सचिव
जिलाध्यक्ष सुनीता गिठाला ने बताया कि वह मौजूदा कांग्रेस कमेटी प्रदेश अध्यक्ष के कांग्रेस जिलाध्यक्ष के कार्यकाल के दौरान जिला सचिव के पद पर रही। जिसके बाद पार्टी ने अब जिला उपाध्यक्ष बनाया। सुनीता ने बताया कि ससुराल का परिवार हमेशा से ही कांग्रेस पार्टी से जुड़ा हुआ है। पति धर्मेंद्र गिठाला भी 2005 में छात्र संगठन एनएसयूआई से जिलाध्यक्ष रह चुके हैं। 2010 में सुनीता ने जिला परिषद के वार्ड नंबर 10 से चुनाव में जीत भी दर्ज की थी।