ऋषि कुंड में डूबने से दो युवकों की मौत

ऋषि कुंड में डूबने से दो युवकों की मौत

कुचामनसिटी. नागौर जिले के कुचामन सिटी के पास पहाड़ी पर स्थित काव्य ऋषि कुण्ड में नहाते गए दो युवकों की मौत हो गई।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

पहाड़ी पर स्थित काव्य ऋषि कुंड के पास महादेव जी का मंदिर भी है, इसलिए सोमवार को हरियाली अमावस्या के अवसर पर दोनों युवक यहां स्थान करने गए थे, इस दौरान डूबने से उनकी मौत हो गई।

पुलिस ने दोनों युवकों के शव कुण्ड से बाहर निकालकर कुचामन अस्पताल की मोर्चरी में रखवाए। मरने वालों में एक युवक देवरी गांव व दूसरा जुसरिया गांव का बताया जा रहा है।

पिछले 10 दिन में हो चुकी चार की मौत

जिले में इन दिनों पानी में डूबने की घटनाएं बढ़ गई हैं। एक ओर जहां बरसात का पानी गड्ढ़ों में भरने से बच्चे डूब रहे हैं, वहीं नाडी-तालाब में पानी भरने से नहाते समय डूबने से पिछले दिनों में आधा दर्जन बच्चों व युवकों की मौत जिले में हो चुकी है। गत 12 जुलाई को नागौर शहर के कुम्हारवाड़ा में दोपहर में ननिहाल गए मासूम भाई-बहन की घर के हौद में डूबने से मौत हो गई थी। शहर के नकाश गेट के समीप कुम्हारों के मोहल्ले में विजय कुम्हार पत्नी सुमन व चार बच्चों के साथ रहता है।

रोजाना की तरह विजय सुबह मजदूरी पर चला गया। उसके जाने के बाद सुमन पांच साल की बेटी देविका और ढाई साल के पुत्र गगन के लेकर कुम्हारवाड़ा में अपने पीहर गई थी। सुमन रसोई में खाना बनाने लगी और उसके जाते ही मां व भाई परसाराम गेहूं खरीदने चले गए। इस दौरान देविका और गगन घर के बाहर ही खेल रहे थे। कुछ समय बाद मामा परसाराम आया। घर में बच्चे नहीं दिखने पर दस-पंद्रह मिनट आसपास में तलाश की। बाद में हौद को देखा तो उनके होश उड़ गए। दोनों बच्चों हौद में गिरे हुए थे।

इसी प्रकार गत दिनों जिले के गच्छीपुरा थाना क्षेत्र के बडू गांव के एक खेत में बने फार्म पॉण्ड में डूबने से निजी स्कूल के दो शिक्षकों की मौत हो गई थी। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची तथा दोनों के शव बाहर निकालकर गच्छीपुरा अस्पताल की मोर्चरी में रखवाए। बडू के निजी स्कूल में पढ़ाने वाले शिक्षक बीकानेर निवासी रवि पुत्र शेराराम तथा हनुमानगढ़ जिले के मनीष पुत्र राजूराम ब्राह्मण 9 जुलाई को एक खेत में बने फार्म पॉण्ड पर नहाने गए थे। नहाते समय वे उसमें डूब गए, जिससे दोनों की मौत हो गई।