Headlines

झुंझुनूं : फिर सामने आई शेखावाटी यूनिवर्सिटी की गड़बड़ी, एमएससी बॉटनी के लिफाफे में निकला एमए हिस्ट्री का पेपर

यूनिवर्सिटी के परीक्षा निदेशक डॉ. रवींद्र कटेवा न3 जानकारी देते हुए कहा – आज जो गलती सामने आई है, वो प्रिंटिंग प्रेस के स्तर की गलती है, जिसकी जांच करवाई जाएगी
शेखावाटी यूनिवर्सिटी की लापरवाही और गड़बड़ी का क्रम रूकने का नाम नहीं ले रहा है. आज एक बार फिर एमएससी बॉटनी के लिफाफे में एमए हिस्ट्री के पेपर निकलने से फिर अफरा-तफरी मच गई. 
झुंझुनूं के नेतराम मघराज टिबड़ेवाल कॉलेज में आज सुबह जब एमएससी बॉटनी का लिफाफा खोला गया तो उसमें एम हिस्ट्री के पेपर निकले, जो पेपर आज ही सुबह 11 बजे होना था. इसके बाद परीक्षा नियंत्रक को जानकारी दी गई तो पता चला बहुत सारे कॉलेजेस में ही ऐसा हुआ है. 
एनएमटी कॉलेज ने फिर पास की मोरारका कॉलेज से पेपर मंगवाए और उसकी फोटो कॉपी करवाकर परीक्षार्थियों को दी. इस काम में करीब 35 मिनट खराब हो गए, जिसके कारण परीक्षार्थियों को आज 35 मिनट अतिरिक्त दिए गए. जो पेपर सुबह साढ़े आठ बजे छूटना था, वो पेपर सुबह नौ बजकर पांच मिनट पर छोड़ा गया.
प्रिंटिंग प्रेस की निकाली गलती
इधर, यूनिवर्सिटी के परीक्षा निदेशक डॉ. रवींद्र कटेवा ने बताया कि आज जो गलती सामने आई है, वो प्रिंटिंग प्रेस के स्तर की गलती है, जिसकी जांच करवाई जाएगी. इसके अलावा आज दोपहर की पारी में 11 बजे से जो एमए फाइनल हिस्ट्री फाइव का पेपर जो एमएससी के लिफाफे में निकला है, उसे प्रारंभिक तौर पर आउट मानते हुए उसे स्थगित कर दिया है. यह परीक्षा 43 केंद्रों पर होनी थी, जिनके केंद्राधीक्षकों को पेपर ना करवाने के लिए बोला जा रहा है. इसकी आगामी तारीख जल्द दी जाएगी. 
मंगलवार को भी हुई थी गलती
बता दें कि कल मोरारका कॉलेज में एमकॉम बिजनस एडमिनिस्ट्रेशन के लिफाफे में भी एमएससी मैथ्स का पेपर निकलने की बात सामने आई थी. आज एमएससी के लिफाफे में एमए का पेपर निकला है. तो एक तरह से परीक्षा पर सवाल खड़े हो गए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *