2000 Note : आपके पास हैं 2000 रुपये के नोट? घबराएं नहीं, जानिए अब क्या करना है

क्या आपके पास अभी भी 2000 रुपये के नोट हैं… अगर हां, तो परेशन होने की जरूरत नहीं है। RBI ने लोगों की सुविधा के लिए 2000 रुपये के नोट जमा करने का एक और विकल्प दिया है। अब आम लोग अपने पास मौजूद 2000 रुपये के नोट insured पोस्ट के जरिए RBI दफ्तरों तक भेज सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

नई दिल्ली. 2000 रुपये के नोट जमा करने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की शाखाओं के बाहर लोगों की लंबी कतारों को देखते हुए केंद्रीय बैंक ने कहा है कि लोगों को हड़बड़ाने की जरूरत नहीं है. लोग 2,000 रुपये के नोट अपने बैंक खातों में जमा कराने के लिए उन्हें बीमाकृत डाक के जरिये रिजर्व बैंक के क्षेत्रीय कार्यालयों में भेज सकते हैं.

यह उन लोगों के लिए एक आसान विकल्प है जो रिजर्व बैंक के क्षेत्रीय कार्यालयों से दूर रहते हैं. दो हजार रुपये का नोट जमा करने या समान मूल्य के अन्य नोटों से बदलने के लिए फिलहाल कोई समयसीमा की घोषणा नहीं की गई है.

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के क्षेत्रीय निदेशक रोहित पी. दास ने कहा, ‘‘हम ग्राहकों को सबसे सहज व सुरक्षित तरीके से सीधे उनके खाते में राशि जमा कराने के लिए बीमाकृत डाक के जरिये 2,000 रुपये के नोट आरबीआई को भेजने के लिए प्रोत्साहित करते हैं.

यह उन्हें आरबीआई की शाखाओं तक यात्रा करने और कतार में खड़े होने की परेशानियों से बचाएगा.’’ उन्होंने कहा कि टीएलआर तथा बीमित पोस्ट, दोनों विकल्प अत्यधिक सुरक्षित हैं और जनता के मन में इन विकल्पों को लेकर कोई डर नहीं होना चाहिए. अकेले दिल्ली कार्यालय को अबतक करीब 700 टीएलआर फॉर्म मिले हैं.

सिटी फिजियोथैरेपी सेंटर झुंझुनू

अब तक कितने नोट वापस लौटे


उन्होंने कहा कि आरबीआई अपने संचार में अपने कार्यालयों में विनिमय सुविधा के अलावा इन दो विकल्पों को फिर शामिल कर रहा है. आरबीआई ने 19 मई को 2,000 रुपये मूल्यवर्ग के बैंक नोट को चलन से वापस लेने की घोषणा की थी. इन नोटों को बैंकों में जमा करने के साथ अन्य मूल्य वर्ग के नोटों से बदलने की सुविधा लोगों को दी गई थी.

आरबीआई के मुताबिक, इस तरह 19 मई, 2023 तक चलन में मौजूद 2,000 रुपये मूल्य के कुल नोट में से 97 प्रतिशत से अधिक नोट अब वापस आ चुके हैं.

7 अक्टूबर तक बढ़ी थी डेट
इन नोटों को बदलने या बैंक खातों में जमा कराने की समयसीमा पहले 30 सितंबर थी. बाद में यह समयसीमा सात अक्टूबर तक बढ़ा दी गई. बैंक शाखाओं में जमा और विनिमय दोनों सेवाएं सात अक्टूबर को बंद कर दी गई थीं.

कब की गई थी 2000 के नोट वापस लेने की घोषणा?


19 मई को RBI ने 2000 रुपये के नोट सर्कुलेशन से वापस लेना का ऐलान किया था। 19 मई 2023 बाजार में मौजूद 2000 रुपये के नोटों में से 97 फीसदी वापस बैंकों तक पहुंच गए थे।

आठ अक्टूबर से व्यक्तियों को आरबीआई के 19 कार्यालयों में मुद्रा का आदान-प्रदान करने या उनके बैंक खातों में समतुल्य राशि जमा करने का विकल्प प्रदान किया गया है.

बैंक नोट बदलने के लिए 19 आरबीआई ऑफिस की लिस्ट में अहमदाबाद, बैंगलोर, बेलापुर, भोपाल, भुवनेश्वर, चंडीगढ़, चेन्नई, गुवाहाटी, हैदराबाद, जयपुर, जम्मू, कानपुर, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई, नागपुर, नई दिल्ली, पटना और तिरुवनंतपुरम हैं।

पोस्ट के माध्यम से RBI जारी कार्यालय को 2000 रुपये के बैंक नोट कैसे भेजें

भारतीय डाकघर के माध्यम से RBI जारी कार्यालयों में 2000 रुपये के बैंक नोट भेजने के लिए, RBI ने एक आवेदन प्रारूप निर्दिष्ट किया है और इसके साथ कुछ वैध दस्तावेजों को संलग्न करना आवश्यक है।

वैध दस्तावेज़ (ओवीडी) जिनका आप उपयोग कर सकते हैं:

आधार कार्ड

ड्राइविंग लाइसेंस

मतदाता पहचान पत्र

पासपोर्ट

नरेगा कार्ड

पैन कार्ड

सरकारी विभाग द्वारा जारी किया गया पहचान पत्र आपको पोस्ट में अपने बैंक खाते के विवरण की एक प्रति (खाता विवरण वाला भाग) या अपनी पासबुक के पहले पृष्ठ (खाता विवरण के साथ) के साथ वैध दस्तावेजों की एक प्रति शामिल करनी होगी।

बैंक खाते का विवरण :

खाताधारक का नाम

खाता संख्या

खाते का प्रकार

बैंक का नाम

शाखा का नाम/पता

आईएफएससी कोड

ध्यान देने योग्य बात: RBI ने कहा कि राशि बैंक खाते में इस शर्त पर जमा की जाएगी कि खाता पूरी तरह से KYC के अनुरूप हो।