Ayushman Chiranjeevi Card आयुष्मान चिरंजीवी कार्ड हेतु ई-केवाईसी की प्रक्रिया शुरू

आयुष्मान भारत मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत आयुष्मान चिरंजीवी कार्ड हेतु ई-केवाईसी की प्रक्रिया शुरू की गई है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

जयपुर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव शुभ्रा सिंह ने आयुष्मान चिरंजीवी कार्ड की ई-केवाईसी की प्रगति की समीक्षा करते हुए इस कार्य को 26 जनवरी, 2024 तक पूरा करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि ई-केवाईसी के कार्य को गंभीरता से लेते हुए जिलों को दैनिक लक्ष्य आवंटित कर मॉनीटरिंग की जाए एवं खराब प्रदर्शन करने वाले जिलों में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाए।

आयुष्मान भारत मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत आयुष्मान चिरंजीवी कार्ड हेतु ई-केवाईसी की प्रक्रिया शुरू की गई है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राजकुमार डांगी ने बताया कि सर्वप्रथम लाभार्थी यदि स्वयं ई केवाईसी करना चाहता है तो गूगल प्ले स्टोर से आयुष्मान ऐप इंस्टॉल करें। ऐप में लॉगिन के लिए बेनिफिशियरी मोड चयन कर आपका मोबाइल नम्बर दर्ज करें एवं मोबाईल नम्बर पर प्राप्त ओटीपी दर्ज कर सत्यापन करें। इसके बाद लाभार्थी खोज का पेज प्रदर्शित होगा, जिसमें आपसे संबंधित सूचनाओ का चयन करें।



इसके बाद लाभार्थियों की सूची प्रदर्शित होगी, जिसमें नारंगी कलर में प्रदर्शित नाम की ई केवाईसी करने के लिए ई केवाईसी का बटन दबाएं तथा इसके प्रमाणीकरण हेतु आधार ओटीपी का चयन करें। आधार संख्या को सत्यापित करें, तत्पश्चात् प्रदर्शित द्योषणा पत्र पर स्वीकृति हेतु अनुमति का बटन दबाएं। आधार संख्या सत्यापन होने के बाद हरा टिक प्रदर्शित होगा।

City Physiotherapy Center Jhunjhunu

उन्होने बताया कि जिस लाभार्थी का ई केवाईसी किया गया है, उस आधार नम्बर में रजिस्टर्ड मोबाईल नम्बर पर प्राप्त ओटीपी दर्ज करें तथा ई केवाईसी हेतु प्रयुक्त मोबाइल पर आया ओटीपी दर्ज करें। इस प्रकार ई केवाईसी होने पर प्रमाणीकरण का मैसेज प्रदर्शित होगा। इसके साथ ही ई केवाईसी प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी। उन्होने बताया कि उपरोक्त के अलावा ई केवाईसी हेतु अपने क्षेत्र में कार्यरत एएनएम/आशा सहयोगिनी के माध्यम से ई केवाईसी कर सकते हैं।


सीएमएचओ ने की अपील


सीएमएचओ डॉ. राजकुमार डाँगी ने आमजन से शिविरों में आयुष्मान कार्ड बनवाने की अपील करते हुए बताया कि ग्राम स्तर पर शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। इन शिविरों में गैर संचारी रोगों की जांच, टीबी की स्क्रीनिंग सहित कल्याणकारी योजनाओं से वंचित लोगों को योजनाओं से लाभान्वित होने के लिए के लिए प्रेरित करने के साथ योजनाओं से जोड़ा जा रहा है। इसी के तहत इन शिविरों में आयुष्मान कार्ड बनाने का काम जारी है, 19 दिसम्बर को आयोजित शिविर में 6 हजार 720 आयुष्मान कार्ड बनाये गये। आमजन शिविरों में आधार कार्ड जन आधार कार्ड, आधार और मोबाइल साथ लेकर जाएं जिससे उनका हेल्थ कार्ड शिविर में बनाया जा सके। उन्होंने बताया कि फील्ड स्तरीय कार्यकर्ताओं द्वारा ई केवाईसी आयुष्मान ऐप द्वारा लाभार्थी मोड़ से की जाए।

आयुष्मान कार्ड के लाभ


इस योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराना है। इसके अन्तर्गत आने वाले प्रत्येक परिवार को 5 लाख तक का कैशरहित स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जायेगा। जो लोगों को बिना किसी परेशानी के बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं प्रदान करना है आप स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंचने के लिए कार्ड का उपयोग कर सकते हैं। योजना के तहत आयुष्मान कार्ड धारक 5 लाख रुपए तक का इलाज मुफ्त में सूचीबद्ध अस्पतालों में करवा सकते हैं। इसीलिए अगर आप इसके पात्र हैं और अबतक नहीं बनवाया ये कार्ड तो जल्द ही बनवाएं ये कार्ड।

आयुष्मान ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया


?सर्वप्रथम आपको गूगल प्ले स्टोर खोलना होगा।
?अब आपको सर्च बॉक्स में आयुष्मान भारत भरकर एंटर करना होगा।
?अब आपके सामने एक सूची खुलकर आएगी सूची में से आपको सबसे ऊपर वाले ऐप पर क्लिक करना होगा।
?इसके पश्चात आपको इंस्टॉल के बटन पर क्लिक करना होगा।
?जैसे ही आप इंस्टॉल के बटन पर क्लिक करेंगे आयुष्मान भारत ऐप आपके मोबाइल फोन में डाउनलोड हो जाएगा।