रामनवमी पर बड़ा हादसा, जुलूस के दौरान विद्युत करंट से 3 लोगों की मौत

रामनवमी पर बड़ा हादसा, जुलूस के दौरान विद्युत करंट से 3 लोगों की मौत

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

राजस्थान के कोटा जिले के इटावा के सुल्तानपुर के कोटड़ा दीप सिंह गांव में रामनवमी पर बड़ा दुखद हादसा हुआ. रामनवमी के जुलूस के दौरान करंट लगने से 3 लोगों की मौत हो गई और 4 गंभीर रूप से झुलस गए। हादसा सुल्तानपुर कस्बे के कोटडादीप गांव में हुआ। अखाड़े के युवक करतब दिखा रहे थे। उसी दौरान एक युवक का चक्र ऊपर से गुजर रही हाईटेंशन लाइन पर जाकर अटक गया।

अखाड़ा खेलते समय चक्कर विद्युत तार में जा लटका. विद्युत तार से चक्कर को उतारने के दौरान यह हादसा हुआ. सभी घायलों को सुल्तानपुर अस्पताल में कराया भर्ती कराया गया. चिकित्सालय में जांच के बाद तीन लोगों को मृत घोषित किया

वहीं 3 युवकों को नाजुक हालात में कोटा रैफर किया. बूढ़ादित थाना पुलिस मौके पर पहुंची. ललित,अभिषेक और महेंद्र नामक युवक को मृत घोषित किया गया. हिमांशु राधेश्याम और अमित को कोटा रैफर किया

करतब दिखाने वाले लोग भी मंशापूर्ण व्यामशाला बड़ोद नगर से जुड़े हुए थे जानकारी के मुताबिक घटना शाम 5:00 बजे के आसपास की है अखाड़े में शामिल युवक चक्र को उतारने लगे इसी दौरान करंट की चपेट में आकर नीचे गिर गए हादसे से मौके पर भगदड़ मच गई मौके में मौजूद लोगों ने सीपीआर देने शुरू कर दिया पानी डाला फिर इलाज के लिए सुल्तानपुर हॉस्पिटल लाया इलाज के दौरान बड़ोद निवासी महेंद्र यादव अभिषेक नागर ललित प्रजापति की मौत हो गई जबकि तीन घायलों को कोटा रैफर किया है एक सुल्तानपुर इलाज चल रहा है

इंदौर में मंदिर की बावड़ी धंसी; 14 मौत:रामनवमी पर मंदिर आए 30 से ज्यादा लोग 40 फीट नीचे गिरे, 17 को बचाया

इंदौर के बेलेश्वर महादेव झूलेलाल मंदिर में रामनवमी पर बड़ा हादसा हो गया। यहां हवन के दौरान अंडरग्राउंड बावड़ी की छत धंसने से 14 लोगों की मौत हो गई। बावड़ी में 30 से ज्यादा लोग गिरे थे। यह 40 फीट गहरी है। पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से रस्सियों के सहारे कुएं से लोगों को निकाला। कुएं से 11 शव निकाले गए, जबकि 3 लोगों ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ा।

रामगढ़ कस्बे में निकली रामनवमी पर भव्य शोभायात्रा
बारिश की बूंदे भी राम भक्तों का जोश नहीं कर पाई कम।

फतेहपुर शेखावाटी। फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र के रामगढ़ कस्बे में रामनवमी के पावन पर्व पर गुरुवार 30 मार्च को कस्बे में राम भक्तों द्वारा भव्य भगवान श्री राम की शोभा यात्रा निकाली गई ऐतिहासिक और भव्य शोभायात्रा की शुरुआत कस्बे के ऐतिहासिक श्री रघुनाथ जी के मंदिर से शुरू हुई जो कस्बे के मुख्य मार्गो से होते हुए वापस मंदिर प्रांगण आकर समाप्त हुई।

पूरी शोभायात्रा के दौरान जगह-जगह लोगों ने शोभायात्रा के ऊपर पुष्प वर्षा की तो वहीं विभिन्न स्थानों पर शोभायात्रा में शामिल हुए लोगों के लिए ठंडा पेय जल, शुद्ध जल ,सहित अन्य व्यवस्था भी की शोभायात्रा मे विशेष झांकियां आकर्षण का केंद्र रही तो वही डीजे के धुन पर बज रहे धार्मिक गानों पर युवाओं ने जमकर डांस भी किया।

पूरी शोभायात्रा के दौरान पुलिस और प्रशासन के अधिकारी भी कानून व्यवस्था बनाने के लिए साथ रहे।
दोपहर बाद से ही रिमझिम बारिश का दौर शुरू होने से हालांकि कुछ व्यवधान शोभायात्रा में जरूर हुए लेकिन बूंदाबांदी भी राम भक्तों का जोश कम नहीं कर पाई।।

इन स्थानों से होते हुए निकलेगी शोभायात्रा।
गुरूवार 30 मार्च को शोभायात्रा रामगढ़ कस्बे के रघुनाथ जी मन्दिर से शुरू होकर पुराने बस स्टैंड, गायत्री टेलीकॉम, जला चौक, चोड़ती गली, होते हुए वापिस रघुनाथ जी मन्दिर पहुंचकर समाप्त हुई। तो वही पूरी शोभायात्रा के दौरान विभिन्न स्थानों पर भामाशाहो द्वारा ठंडे पेयजल,ठंडा पानी,फलाहार की व्यवस्था भी की गई पूरे शोभायात्रा के रूट में 100 से अधिक स्थानों पर मात्र शक्तियों ने पुष्प वर्षा भी की।
यह भी शामिल हुए शोभायात्रा में।
शोभायात्रा में रामगढ़ नगर पालिका अध्यक्ष दूधाराम चोहला, विधानसभा प्रत्याशी रही सुनीता कड़वासरा, भाजपा नेता महावीर कटारिया,उपखंड अधिकारी विकास प्रजापत, डीवाईएसपी राजेश कुमार विद्यार्थी,रामगढ़ थाना अधिकारी हेमराज मीणा, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मुज्जसिम भाटी, भाजपा नेता गोवर्धन सिंह, राजकुमार राठी, शिव प्रसाद सोनी, सहित अन्य जनप्रतिनिधि भामाशाह और पुलिस प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे।