Helicopter हेलीकॉप्टर बना कौतूहल का विषय, जानें क्या है पूरा मामला

दरसअल शेखावाटी क्षेत्र में पिछले दो तीन दिनों से उड़ रहा हेलीकॉप्टर जिले के कुछ हिस्सों में यूरेनियम मिलने का पता लगाने के लिए सर्वे किया जा रहा है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

राजगढ़ सादुलपुर क्षेत्र के पिलानी रोड़ पर स्थित हरपालु गांव में 17 मार्च को एक हेलीकॉप्टर ने एकाधिक बार आसमान में चक्कर लगाए। उसके बाद हेलीकाप्टर गांव के मैदान में भी उतरा। इसमें सुरक्षा गार्डों सहित एक विशेषज्ञ टीम होनी भी बताई गई है।
इस बात को लेकर ग्रामीणों में एक बार कौतूहल की स्थिति (Helicopter became a matter of curiosity) बन गई। लोगों में यह चर्चा रही कि बार बार यह हेलीकॉप्टर क्यों चक्कर लगा रहा है ।

इस बारे में सूत्रों से जो जानकारी मिली है उसके अनुसार यह हेलीकॉप्टर भूगर्भ सर्वे विभाग का है, जिसका संबंध हैदराबाद के किसी महकमें/कंपनी से बताया जा रहा है।

गौैरतलब है कि हेलीबॉर्न सर्वे शुष्क क्षेत्रों में पानी की समस्या के निवारण और भू-जल संसाधनों को बढ़ाने के लिए राजस्थान, गुजरात, हरियाणा और पंजाब राज्यों में होगा।

यह हेलीकॉप्टर राजगढ़ में कि नहीं चूरू जिले के अन्य स्थानों पर भी सर्वे कर रहा है। इसमें साथ में जो टीम है वह भूजल तथा भूमि में केमिकल, खनिज जांच के साथ साथ कृषि संबंधी भी सर्वे से बताया जा रहा है। इसके अलावा अन्य कोई कारण या वजह नहीं है।

यह है हेलीबॉर्न
हेलिकॉप्टर में उच्च भू-भौतिकीय तकनीक के संयंत्र को लगाया जाता है, जो कि भूजल या एक्विफर का स्पष्ट मानचित्र बना देता है। इससे आगे भू-जल के आंकड़े बहुत कम समय में एकत्रित किए जाते है और भूजल संरक्षण पर काम भी किया जाता है। इसे ही हेलीबॉर्न कहा जाता है।