Jhunjhunu News छात्रावास में 12 वीं छात्र फंदा लगाकर झूला, स्टूडेंट ने हाथ पर सुसाइड नोट

छात्रावास 12वीं के छात्र की संदिग्ध हालत में मौत

चिड़ावा: दो बहनों में इकलौता भाई निजी स्कूल के छात्रावास में फाँसी के फंदे पर झूला (student hanged himself in the hostel) , हाथ पर मिला सुसाईड नोट ( suicide note on hand) परिजनों ने मामले करवाया दर्ज, पुलिस जाँच में जुटी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

झुंझुनूं: चिड़ावा में निजी स्कूल के छात्रावास में 12 वीं क्लास कास्टूडेंट फंदा लगाकर झूल गया। स्टूडेंट ने हाथ पर सुसाइड नोट में लिखा- सॉरी पापा, लव यू मॉम, मैं पागल हो जाता।

बेटे का शव देखकर पिता और दादा बेसुध हो गए। मामला झुंझुनूं जिले के चिड़ावा में चौधरी कॉलोनी का शुक्रवार का है। बतादे की 16 साल का कृष्ण कुमार चिड़ासन का रहने वाला था। वह एक साल पहले ही चिड़ावा का आया था। यहां प्राइवेट स्कूल में 12वीं साइंस का स्टूडेंट था और चौधरी कॉलोनी में बने एक प्राइवेट हॉस्टल में रहता था। बताया जा रहा है कि इस हॉस्टल में 6 से 7 स्टूडेंट और रहते हैं। शुक्रवार सुबह करीब 6 बजे एक स्टूडेंट मोहित नहाने के लिए पानी गर्म करने गया तो देखा की हॉस्टल कैंपस में ही एक पेड़ पर कृष्ण लटका हुआ है। यह देखकर वह भागकर हॉस्टल में ही रह रहे टीचर पंकज और अन्य स्टूडेंट को इसकी जानकारी दी।

कृष्ण कुमार को पेड़ से लटका देख हॉस्टल के दूसरे स्टूडेंट्स ने रस्सी काटी और शव को नीचे उतार लिया। इस बीच छात्रों ने हॉस्टल मालिक विक्रम को सूचना दी। विक्रम ने पुलिस और कृष्ण के घरवालों को बताया। पुलिस को शुरुआती पूछताछ में स्टूडेंट की खुदकुशी करने का कारण सामने नहीं आया है।

दो बहनों कृष्णकुमार का गांव चिड़ावा से करीब 25 किमी दूर है। हॉस्टल संचालक की सूचना पर उसके पिता सुरेंद्र, दादा कुरडाराम और अन्य परिजन हॉस्टल पहुंचे। तब तक दादा को कुछ नहीं पता था, लेकिन वहां पहुंचने के बाद बेटे का शव देख पिता और दादा बेसुध हो गए। साथ आए परिजनों ने उन्हें बड़ी मुश्किल से संभाला। कृष्ण कुमार इसी साल हॉस्टल में रहने आया था। उसके पिता खेती करते हैं। वह दो छोटी बहनों का इकलौता भाई था। हॉस्टल में सुबह छात्र विपिन, मोहित, प्रिंस और टीचर पंकज मौजूद थे। पुलिस ने इन सभी से पूछताछ की। स्टूडेंट्स ने बताया कि रात को करीब 11 बजे तक सभी एक साथ पढ़ाई कर रहे थे। इस दौरान लगा नहीं था कि कृष्ण को कोई परेशानी होगी। हम साथ में बात भी कर रहे थे। करीब 11 बजे बाद सोने चले गए। इसके बाद पता नहीं कि कब वो कमरे से बाहर आया और कब सुसाइड किया। खुदकुशी से पहले कृष्ण ने अपने हाथ पर एक सुसाइड मैसेज लिखा है। जिसमें उसने लिखा सॉरी पापा, लव यू मॉम, मैं पागल हो जाता। फिलहाल खुदकुशी के कारणों का खुलासा नहीं हुआ। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

एसडीएम संदीप चौधरी ने मौका मुआयना किया। इसके बाद वे अस्पताल पहुंचे और परिजनों की मांग पर सीएचसी इंचार्ज डॉ. सुमनलता कटेवा को बुलाकर पोस्टमाॅर्टम मेडिकल बोर्ड से कराने के निर्देश दिए। इस दौरान CI इंद्र प्रकाश यादव मौजूद रहे। फिलहाल पुलिस मामले की हर एंगल से जाँच कर रही है।