Threat to PM Modi: पीएम मोदी को केरल में जान से मारने की धमकी, खुफिया एजेंसियों की जांच तेज

केरल : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को दिनी केरल दौरे पर जाने वाले हैं। इससे पहले मिले एक पत्र के बाद पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों में हड़कंप की स्थिति है। पत्र में सुसाइड बम से पीएम मोदी की हत्या करने की धमकी दी गई है।कोच्चि के किसी शख्स द्वारा कथित रूप से मलयालम में लिखा गया पत्र भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन के कार्यालय में मिला है सुरेंद्रन ने चिट्ठी को पुलिस को सौंप दिया है। मामले की जांच जारी है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

भाजपा प्रदेश कमेटी कार्यालय में पहुंचे पत्र में कहा गया है कि प्रधानमंत्री के केरल दौरे के दौरान आत्मघाती हमला करेंगे. पीएम मोदी का विभिन्न सार्वजनिक समारोहों में भाग लेने के लिए दो दिवसीय यात्रा पर 24 अप्रैल तक केरल पहुंचने का कार्यक्रम है. धमकी भरा पत्र एर्नाकुलम के मूल निवासी जोसेफ जॉन नाडुमुथमिल के नाम से आया है.

पुलिस सूत्रों का कहना है कि एक सप्ताह पहले भाजपा राज्य समिति कार्यालय में पत्र प्राप्त हुआ था और नेतृत्व ने इसे केरल पुलिस प्रमुख को सौंप दिया था. मामला आज सुबह प्रकाश में आया. जल्द ही पुलिस और खुफिया एजेंसियों ने इसकी जांच शुरू कर दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केंद्र द्वारा केरल को आवंटित वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाने सहित कई अन्य कार्यक्रमों के लिए केरल आ रहे हैं.

वाकई खतरा या किसी ने किया मजाक?

पत्र में एन के जॉनी नाम के व्यक्ति का पता लिखा गया था, जहां पुलिस पहुंच चुकी है। पत्र में लिखा गया है कि पीएम मोदी के साथ भी वही होगा जो पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के साथ हुआ था। हालांकि कोच्चि के मूल निवासी जॉनी ने पत्र लिखे जाने से इनकार किया, लेकिन आरोप लगाया कि यह उनके खिलाफ साजिश है।

जॉनी ने मीडिया को बताया कि पुलिस उनके घर आई थी और पत्र के बारे में पूछताछ की थी। पुलिस ने मेरी लिखावट से पत्र का मिलान किया है। पुलिस को भी लग रहा है कि इस हरकत के पीछे कोई और है। हो सकता है कि वह व्यक्ति मुझसे द्वेष रखता हो। मैंने उन लोगों के नाम साझा किए हैं जिन पर मुझे शक है।

पीएम की सुरक्षा पर आमने-सामने भाजपा और प्रदेश सरकार

इस बीच, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने प्रधानमंत्री की यात्रा से संबंधित वीवीआईपी सुरक्षा योजना को लीक करने के लिए राज्य पुलिस की आलोचना की है। उन्होंने कहा, धार्मिक चरमपंथी संगठन केरल में बहुत मजबूत और सक्रिय हैं। राज्य के खुफिया प्रमुख की रिपोर्ट मीडिया में लीक हो गई है। इसमें प्रतिबंधित पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI), पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP), SDPI और माओवादियों सहित कई संगठनों का जिक्र है, लेकिन राज्य सरकार इन संगठनों को बचा रही है।